Deepika padukone ने अमिताभ बच्चन के सामने किया दर्द बया “अब मुझे जिंदा नहीं रहना, मेरी जिंदगी का कोई मकसद नहीं…”

 
अड़

दीपिका पादुकोण बॉलीवुड की उन चंद अभिनेत्रियों में से एक हैं जिन्होंने सबसे पहले डिप्रेशन को लेकर आवाज उठाई थी। दीपिका ने माना कि वह डिप्रेशन की शिकार हो चुकी हैं और इसके बारे में बताने या बात करने में कोई हर्ज नहीं है. शुक्रवार को 'कौन बनेगा करोड़पति 13' के स्पेशल एपिसोड में दीपिका पादुकोण और फराह खान पहुंचीं। सामने शो के होस्ट अमिताभ बच्चन बैठे थे. इस दौरान दीपिका ने अपने डिप्रेशन के दिनों का एक्सपीरियंस शेयर किया। दर्द बयां करते हुए दीपिका ही नहीं अमिताभ बच्चन भी इमोशनल हो गए। दीपिका ने कहा कि वह एक ऐसा दौर था जब उनकी जीने की इच्छा खत्म हो गई थी।

अमिताभ के सवाल पर शुरू हुई बात
दरअसल, शो के होस्ट अमिताभ बच्चन ने दीपिका और फराह से पूछा कि वह किस नेक मकसद से क्विज शो में हिस्सा ले रही हैं? इसके जवाब में दीपिका ने कहा कि वह 2014 में डिप्रेशन की शिकार थीं। इसके बाद उन्होंने मेंटल हेल्थ फाउंडेशन की शुरुआत की, जो मानसिक स्वास्थ्य को खराब करता है। इसी कड़ी में बात को आगे बढ़ाते हुए दीपिका ने अपना दर्द बयां किया जिसे सुनकर कोई भी सिहर उठेगा.

'कई बार...कई बार ऐसा हुआ...'
अमिताभ ने दीपिका से पूछा कि आपको कब एहसास हुआ कि आप डिप्रेशन से पीड़ित हैं? इस पर दीपिका ने कहा, 'अचानक मुझे लगा कि मेरे पेट में अजीब सा अहसास हो रहा है, मुझे खालीपन महसूस हो रहा है।' डिप्रेशन से अपनी लड़ाई के बारे में बात करते हुए दीपिका ने कहा, 'एक समय था जब मैं काम पर नहीं जाना चाहती थी। किसी से मिलना नहीं चाहता था। मैं कुछ नहीं करना चाहता था। कई बार…कई बार ऐसा हुआ…मुझे नहीं पता कि मैं कहूं या नहीं, लेकिन जीने की जिद…मुझे लगा कि मैं अब और जिंदा नहीं रहना चाहता। मेरे जीवन का कोई उद्देश्य नहीं है। इतना कहते ही दीपिका इमोशनल हो गईं। अमिताभ भी दीपिका को घूरते रहे।

Post a Comment

From around the web