तृणमूल कांग्रेस की सांसद Nusrat Jahan से जुड़े विवादों पर चढ़ा राजनातिक रंग

 
s

तृणमूल कांग्रेस की सांसद नुसरत जहां और व्यवसायी निखिल जैन की विवादास्पद शादी ने अब राजनीतिक रंग ले लिया है । भाजपा ने यह आरोप लगाया है कि फिल्म अभिनेत्री नुसरत ने अपनी शादी को एक खुशहाल अंतर धार्मिक विवाह के रूप में दिखाकर लोगों को धोखा दिया है। इस मुद्दे पर तब बहस छिड़ गई जब भाजपा आईटी सेल के प्रमुख अमित मालवीय ने ट्विटर पर एक वीडियो पोस्ट किया, जिसमें जहान शपथ ग्रहण समारोह में माथे पर सिंदूर लगाए दिख रही है। उन्होंने लिखा, “टीएमसी सांसद नुसरत जहां रूही जैन का ये निजी मामला है कि वह किससे शादी करती है, या किसके साथ रह रही है। यह किसी की चिंता का विषय नहीं होना चाहिए। लेकिन वह एक निर्वाचित प्रतिनिधि है और संसद के रिकॉर्ड में है कि उनकी शादी निखिल जैन से हुई है। क्या उन्होंने सदन में झूठ बोला था?”

प्रदेश भाजपा अध्यक्ष दिलीप घोष ने ट्वीट तुरंत प्रतिक्रिया दी और कहा, “उन्होंने यह दिखाते हुए वोट मांगा है कि वह शादीशुदा है। उन्होंने एक विवाहित बंगाली महिला की छाप छोड़ी और चुनाव जीत गई। नुसरत ने लोगों को धोखा दिया है।”

जहान ने तृणमूल कांग्रेस के टिकट पर बारासात विधानसभा क्षेत्र से चुनाव जीता था। उन्होंने भाजपा के सायंतन बसु को 3.5 लाख से अधिक मतों के अंतर से हराया था।

तृणमूल कांग्रेस ने इसे ‘व्यक्तिगत’ बताते हुए इस मुद्दे का बचाव किया। मीडिया से बात करते हुए, तृणमूल महासचिव कुणाल घोष ने कहा, ” नुसरत जहां अच्छी तरह से स्थापित है और वह एक पेशेवर है। उनके निजी जीवन के बारे में कुछ मुद्दे सामने आए हैं लेकिन इसका पार्टी और संगठन से कोई लेना देना नहीं है। पार्टी इस मामले से जुड़े तमाम पहलुओं पर कड़ी नजर रख रही है। बीजेपी को इस पर राजनीति नहीं करनी चाहिए नहीं तो वे मुश्किल में पड़ जाएंगे।”

इस बीच जहान के दावों के बाद कि उन्होंने निखिल जैन से शादी नहीं की थी और लिव इन रिलेशनशिप में थी, निखिल ने एक बयान दिया है कि उनके द्वारा कई कई बार जोर देने के बावजूद नुसरत जहां ने रजिस्ट्री के लिए जाने से इनकार कर दिया।

जैन ने बताया, ” अगस्त 2020 में एक फिल्म की शूटिंग के दौरान, मेरी पत्नी का व्यवहार मेरे प्रति बदलना शुरू हो गया, जो उसे सबसे अच्छी तरह से पता था। हमारे साथ रहने के दौरान मैंने कई मौकों पर उससे शादी का पंजीकरण कराने का अनुरोध किया, लेकिन उसने मेरे अनुरोधों को टाल दिया। ”

उन्होंने कहा, “शादी के बाद, उसे होम लोन के भारी ब्याज बोझ से मुक्त करने के लिए, मैंने अपने परिवार के खातों से पैसे उसके खाते में स्थानांतरित कर दिए, यह समझकर कि वह जल्द ही किश्तों में और जब भी धन उपलब्ध होगा, वो उसे वापस कर देगी।”

उन्होंने आगे कहा, ” किसी को सबूत खोजने या बनाने की जरूरत नहीं होती है। सबूत हमेशा होता है, मेरे बैंक डेबिट और क्रेडिट कार्ड स्टेटमेंट पर्याप्त सबूत हैं। मेरे परिवार ने बेटी मानकर उसे केवल दोनों हाथों से दिया है। हम यह नहीं जानते थे कि वो हमें यह दिन दिखाएगी।”

जैन ने कहा, ” हम पति पत्नी के रूप में एक साथ रहते थे और समाज में एक विवाहित जोड़े के रूप में अपना परिचय देते थे। मैंने अपना सारा समय और संसाधन एक वफादार और जिम्मेदार पति होने के लिए समर्पित कर दिया। दोस्तों, परिवार और हमारे करीबी लोग सब कुछ जानते हैं जो मैंने उसके लिए किया। उसके लिए मेरा बिना शर्त समर्थन निर्विवाद है। हालांकि, बहुत ही कम समय में उसने मेरे साथ विवाहित जीवन के प्रति अपना ²ष्टिकोण बदल दिया।”

–आईएएनएस

From around the web