Shubhangi Atre : मुझे बताया गया था कि विवाहित महिलाएं हिरोइन मटेरियल नहीं होतीं

 

लोकप्रिय कॉमेडी धारावाहिक ‘भाबीजी घर पर हैं’ में अंगूरी भाभी के किरदार से विख्यात हुई अभिनेत्री शुभांगी अत्रे का कहना है कि उन्हें अक्सर विवाहित महिलाओं के खिलाफ इंडस्ट्री में मौजूद पूर्वाग्रहों से जूझना पड़ता है। वह कहती हैं कि इस तरह की रूढ़ियों से जूझने के बावजूद उन्होंने कड़ी मेहनत जारी रखी और आखिरकार अपने सपनों को हासिल किया।

शुभांगी ने कहा, “मुझे याद है कि बहुत कम उम्र में मेरी शादी हो गई थी। मैं बहुत खुश थी कि मैं मुंबई जा रही हूं और मुझे लगा कि मैं अपने सपनों को हासिल कर सकती हूं। लेकिन एक बार जब मैं यहां आ गई, तो मुझे बताया गया कि शादीशुदा महिलाओं को हिरोइन मटेरियल (अभिनेत्री बनने के लायक नहीं) नहीं माना जाता है।”

शुभांगी ने कहा, “लेकिन मैं अपना सर्वश्रेष्ठ प्रयास करती रही और आज मैं इस मामले में धन्य हूं। मेरे पति और परिवार ने इस सबका भरपूर समर्थन किया।”

शुभांगी हमेशा से एक अभिनेत्री बनना चाहती थी। उन्होंने कहा, “मैं बचपन से ही पूरी तरह से फिल्मी हूं। और मैं अपनी आखिरी सांस तक वही रहूंगी। मैंने बहुत कम उम्र से ही यह मन बना लिया था कि मुझे अभिनेत्री बनना है।”

शुभांगी अत्रे ‘कस्तूरी’, ‘दो हंसों का जोडा’ और ‘चिड़िया घर’ जैसे लोकप्रिय शो में अभिनय करने के लिए भी जानी जाती हैं।

न्यूज स्त्रोत आईएएनएस

From around the web