Manoranjan Nama

OTT पर मौजूद हॉलीवुड की इन हॉरर फिल्मों को देख डर के मारे निकल जाएगी चीख, यहां पर हिंदी में उठा सकते है आनंद 

 
OTT पर मौजूद हॉलीवुड की इन हॉरर फिल्मों को देख डर के मारे निकल जाएगी चीख, यहां पर हिंदी में उठा सकते है आनंद 

जब वीकेंड नजदीक होता है तो मनोरंजन के लिए ओटीटी सबसे अच्छा और सस्ता विकल्प नजर आता है। रोमांटिक, एक्शन, ड्रामा से लेकर हॉरर जॉनर की कई फिल्में अलग-अलग ओटीटी प्लेटफॉर्म पर उपलब्ध हैं। अगर आप हॉरर फिल्में देखने के शौकीन हैं तो आप हिंदी भाषा में ऐसी कई हॉलीवुड फिल्में देख सकते हैं। 'द सॉ', हैलोवीन से लेकर 'द एविल डेड' तक हॉलीवुड की कई ऐसी हॉरर फिल्में हैं जिन्हें देखने के बाद आपकी रूह कांप जाएगी। अगर आप अकेले बैठकर ये फिल्में देखेंगे तो अपना आपा खो सकते हैं।

.
यहां देखें 'द कॉन्ज्यूरिंग'
2013 में आई फिल्म 'द कॉन्ज्यूरिंग' एक हॉरर-मिस्ट्री है। इसका सीक्वल भी 2016 में आया। यह फिल्म एक ऐसे शख्स की कहानी है जो अलग-अलग जगहों पर जाकर अलौकिक शक्तियों के खिलाफ लोगों की मदद करता है। इस फिल्म का हिंदी डब संस्करण प्राइम वीडियो पर उपलब्ध है।

.
प्राइम वीडियो पर ये डरावनी फिल्में देखें
'द सॉ' एक सीरियल किलर की कहानी है। यह हॉलीवुड फिल्म साल 2004 में रिलीज हुई थी और अब प्राइम वीडियो पर हिंदी भाषा में उपलब्ध है। 2002 में आई 'द रिंग' भी गोर वर्बिंस्की द्वारा निर्देशित एक हॉरर फिल्म है। यह फिल्म एक वीडियोटेप के बारे में है जिसे देखने वाले व्यक्ति की एक सप्ताह के बाद मृत्यु हो जाती है। 'द रिंग' को प्राइम वीडियो पर देखा जा सकता है।

.
ये फिल्में डर और सस्पेंस से भरी होती हैं
'द हिल्स हैव आइज़' एक ऐसे परिवार की कहानी है जो एक आदमखोर के चंगुल में फंस जाता है। यह फिल्म डिज्नी प्लस हॉटस्टार पर उपलब्ध है। 'पोल्टरजिस्ट' एक ऐसे परिवार की कहानी है जो अपनी बेटी को शैतान से बचाने की कोशिश कर रहा है। इस फिल्म को हिंदी भाषा में एप्पल टीवी पर देखा जा सकता है।

.
'द एविल डेड' इस ओटीटी प्लेटफॉर्म पर उपलब्ध है
'द एविल डेड' पांच दोस्तों की कहानी बताती है जो जंगल में एक केबिन में जाते हैं और जादू टोना के बारे में एक टेप बजाते हैं। यह उन राक्षसों को मुक्त कर देता है जो उन पर कब्ज़ा कर लेते हैं। यह हॉरर फिल्म नेटफ्लिक्स पर उपलब्ध है।

हैलोवीन' नेटफ्लिक्स पर उपलब्ध है
'हैलोवीन' नेटफ्लिक्स पर हिंदी भाषा में उपलब्ध है। फिल्म की कहानी की बात करें तो छह साल की उम्र में माइकल ने हैलोवीन की रात अपनी बहन जूडिथ की हत्या कर दी थी, जिसके बाद वह 15 साल तक मानसिक अस्पताल में रहे।

Post a Comment

From around the web