साउथ के ‘कॉमेडी किंग’ ब्रह्मानंदम फिल्मों से पहले करते थे ये काम, ऐसे मिला था पहला ब्रेक

 
क

साउथ के सुपरस्टार ब्रह्मानंदम न सिर्फ तमिल और तेलुगू बल्कि हिंदी सिनेमा प्रेमियों के बीच भी जाना-पहचाना नाम हैं। ब्रह्मानंदम ने पर्दे पर पहली बार 1987 में कदम रखा था। उनकी पहली फिल्म अहा ना प्लांटा थी।लेकिन क्या आप जानते हैं कि ब्रह्मानंदम फिल्मों में कदम रखने से पहले क्या किया करते थे। दरअसल, वह एक तेलुगु लेक्चरर थे और फिल्मों में आने से पहले कॉलेज में पढ़ाते थे।

ब्रह्मानंदम कॉलेज में बच्चों को पढ़ाने के अलावा मिमिक्री के लिए भी मशहूर थे। जिसके बाद धीरे-धीरे उनकी मिमिक्री इतनी लोकप्रिय हो गई कि उन्होंने कॉलेज में ही एक्टिंग करना शुरू कर दिया।तेलुगु फिल्म निर्देशक जंध्याला ब्रह्मानंदम के अंदर छिपे एक सितारे को पहचानने वाले पहले व्यक्ति थे और उन्हें अपनी फिल्म अहा ना प्लांटा में एक छोटी सी भूमिका दी।

जिसमें ब्रह्मानंदम को काफी पसंद किया गया था।निर्देशक ब्रह्मानंदम अपने क्यूट-क्यू एक्सप्रेशंस से दर्शकों का दिल जीत लेते हैं। उनकी फिल्मों में उनके अलग-अलग किरदार और हावभाव लोगों को खूब हंसाते हैं।ब्रह्मानंदम का नाम गिनीज बुक में भी दर्ज है। इन रिकॉर्ड्स ने उन्हें दुनिया के सबसे अधिक जीवित अभिनेता का नाम दिया है जो कि ज्यादातर समय फिल्मों के क्रेडिट में शामिल हैं।बता दें कि ब्रह्मानंदम को भारत सरकार ने साल 2009 में पद्मश्री से नवाजा था। यह सम्मान भारतीय सिनेमा में उनके योगदान के लिए दिया गया।

Post a Comment

From around the web